Ansulika Paul

Want to visit shabd.online Click Here

Ansulika Paul

ansulika book

Ansulika Paul

Ansulika Paul is a poet, author, researcher and filmmaker. She holds an invincible talent to picture the varied faces of life.

Ansulika Paul

She is a poet, author, researcher and filmmaker.

Ansulika Paul is also the founder and chief-editor of an e-magazine called shabd.online. She has the credit of publishing poems in English and Hindi. She works as a director under the banner “A Films”. She is a published author of short stories. Her works are globally availabe in Amazon.

ansulika paul with book

Words Of Appreciation

Dr. Arti Pathak
Dr. Arti Pathak Professor

अंशुलिका पॉल..... छत्तीसगढ़ की उभरती युवा लेखिका साथ ही साथ एक संवेदनशील व्यक्तित्व हैं। एक सर्जक सिर्फ़ कल्पनाओं का संपुट ही नहीं डालता लेखन में अपितु उसके अनुभव, आसपास के यथार्थ की अनुभूतियाँ एवं चुनौतियों को भी अपने लेखन में उकेरता है, अपनी भावनाओं को संबल देकर जनमानस तक पहुँचाने का एक दुष्कर , दुरुह कार्य करता है। सुश्री पॉल ने अब तक जो रचनाएँ रची वह इन्हीं बातों को बिम्बित करती हैं । इनकी अब तक एक लघुकथा संग्रह एवं दो काव्य संग्रह धुआँ एवं साॅलिट्युड (अंग्रेजी) प्रकाशित हो चुके हैं । इन दोनों ही विधाएँ साहित्य के महत्वपूर्ण अंग होने के साथ ही साथ इन्हें लिखने की शैलियों में भी काफ़ी भिन्नता होती है परंतु लेखिका ने दोनों ही विधा चाहे गद्य हो अथवा पद्य स्वयं को यथेष्ठ सिद्ध किया है। इससे इनकी असीमित लेखन प्रतिभा को हम आंक सकते हैं क्योंकि एक मंजा हुआ लेखक ही एक ही समय में साहित्य के दो अलग अलग विधाओं में रंग भरकर समाज को अच्छी रचना देने की चेष्टा करता है जो इन्होंने किया है। नवोदित लेखिका भले ही उम्र में कम हैं परंतु इनकी रचनाओं में अनुभव का विराट समंदर हम देख सकते हैं । मैंने धुआँ काव्य संग्रह पढ़ते हुए यही भाव महसूस किया, यथार्थ के धरातल पर लहलहाते जीवन की सच्चाई के फूल पाठक के हृदय एवं मानस में कौतुहल मचा देने में सक्षम हैं। सुश्री पॉल यहीं नहीं रुकती, थमती बल्कि अपनी सोच, भाव, विचारों को बिम्बों के माध्यम से एक नए आकाश में विस्तार देती हुई दिखतीं हैं । वह आकाश है फ़िल्में । अभी हाल ही ' हंगामा हो गया ' लघु फिल्म का निर्माण इन्होंने किया जो कि सचमुच यूट्यूब पर अत्यंत अल्प अवधि में हंगामा मचा दिया है। छत्तीसगढ़ की ऐसी प्रतिभा की पहचान विश्व पटल पर हो ऐसी मेरी आकांक्षा एवं आशीष है। आपकी लेखनी उत्तरोत्तर बढ़ती जाए ,आपकी सृजनशीलता आप को नए क्षितिज़ तक पहुँचाए और आप ना सिर्फ़ प्रदेश का बल्कि देश का गौरव बनें । मेरी हार्दिक बधाई एवं शुभाशीष आपको प्रेषित करती हूँ ।

Neha Singh Pillay

Ansulika Paul…. a name that is making waves in many fields, be it writing, directing, podcasting, making lyrical documentaries, etc etc …. at such a young age Miss Paul has many feathers in her cap. Exploring the world through her poetic lenses she started as a poetess and her poems cover many themes but the most prominent is the theme of an independent and self-sufficient woman who is strong-headed, courageous, kind and compassionate. She has to her credit three books ‘Solitude’, ‘Dhuaa’, and ‘Stories Under the Blue Sky’. Poetry and prose are two distinct forms of writing and she has managed to write in both and has presented life, love, loss, and pain in a rustic and raw style, with all these accolades she has just started her journey and I wish her all the very best for her future projects.

Dr. Devdas Menon

Ansulika Paul's works reveal a sensitive, realistic and compassionate understanding of people struggling with the challenges of life in the present-day social milieu in India. In these poetic depictions, we also get to see reflections of her own soul, and her aspirations, mirrored in the wonderful portrayal of some of her characters. May she continue with her creative work, echoing her own evolution in heart, mind and spirit... 🙏

Articles